12वीं के बाद क्या करें? उच्चतर शिक्षा या नौकरी? विस्तृत जानकारी के लिए यह पढ़ें। 

आप में से कुछ छात्र 12वीं कक्षा की परीक्षा दे चुके होंगे और कुछ छात्र इन परीक्षाओं की तैयारी कर रहे होंगे। आप सभी छात्र 12वीं कक्षा की विभिन्न शाखाओं जैसे कि विज्ञान, अंकशास्त्र, वाणिज्य, जीवविज्ञान, कला एवं मानविकी में ज्ञानार्जन कर रहे होंगे। आप सबके मन में यह विचार तो उत्पन्न हुआ होगा की 12वीं के बाद क्या करें। कुछ छात्र उच्चतर शिक्षा पाने की दिशा में बढ़ जाते हैं और दूसरी ओर कुछ छात्र नौकरी करने का मन बना चुके होते हैं। छात्रों के लिए यह समय बहुत ही नाज़ुक होता है एवं छात्र इस क्षण में भ्रमित हो कर घर पर बैठ जाते हैं। इसी दुविधा की परिस्थिति को दूर करने के लिए यह लेख आपकी बहुत सहायता कर सकता है। तो आईए, हम इस दुविधा को दूर करने के लिए आगे बढ़ते हैं। 

10वीं के बाद के विकल्प:

जैसा की आप सब जानते हैं की छात्र 10वीं कक्षा के बाद, अपने रूचि की धारा का चुनाव करते हैं। यह धाराएँ मुख्यतः 3 तरह की होती हैं: विज्ञान, मानविकी एवं वाणिज्य।  

12वीं विज्ञान धारा के छात्रों के लिए विकल्प: 

छात्र 10वीं कक्षा के बाद विज्ञान की धारा का चुनाव करते हैं। विज्ञान की धारा आगे 2 उपधाराओं में विभाजित होती हैं। पहली उपधारा छात्रों को चिकित्सा एवं वैद्यक सम्बन्धी क्षेत्र की ओर अग्रसर करता है। इसके लिए छात्रों को पी.सी.बी. विषयों का चुनाव करना होगा। दूसरी उपधारा के लिए छात्रों को पी.सी.एम. विषयों का चुनाव करना होता है। इस उपधारा के द्वारा छात्र प्रौद्योगिक एवं औद्योगिक क्षेत्र में जा सकता है। छात्र पी.सी.बी विषयों के साथ अंकशास्त्र विषय भी रख सकते हैं। 

12वीं के बाद कोर्स: 

बी.एससी: छात्र 12वीं कक्षा के बाद बी.एससी का कोर्स किसी भी धारा (अंकशास्त्र, जीवविज्ञान, भौतिकविज्ञान, कृषि, रसायनशास्त्र) में कर सकते हैं। बी.एससी एक ऐसा कोर्स है जो 12वीं का हर कोई छात्र कर सकता है। बी.एससी करने के बाद छात्र आगे एम.एससी/ एमबीए  कोर्स कर सकते हैं। 


12वीं पीसीबीएम (भौतिक विज्ञानं, रसायन विज्ञानं, जीव विज्ञान एवं, गणित शास्त्र) के बाद कोर्स: 

12वीं कक्षा में पीसीबी रखने वाले छात्र दवा या दंत अध्ययन, जैव रसायन, जैव प्रौद्योगिकी, सूक्ष्म जीव विज्ञान, कृषि और डेयरी विज्ञान में अपने आगे का अध्ययन कर सकते हैं। इन छात्रा के पास पैरामीडिकल और संबद्ध क्षेत्रों जैसे नर्सिंग, फिजियोथेरेपी, व्यावसायिक चिकित्सा, ऑडियोलॉजी, स्पीच थेरेपी, मेडिकल लैब टेक्नोलॉजी, ऑप्टोमेट्री, पोषण और डायटेटिक्स, फार्मेसी इत्यादि के विकल्प भी उपलब्ध हैं। इन छात्रों को गणित का विषय रखने के कारण मेडिकल के छात्रों से ज़्यादा विकल्प चुनने की सुविधा होती है। 

पीसीबीएम के छात्र 12वीं के बाद निम्नलिखित कोर्स कर सकते हैं: 

  • बी.एससी (कृषि, केमिस्ट्री, बॉटनी, डेरी प्रद्योगिकी, होम साइंस आदि)

  • बी.फार्मा

  • बी.टेक (कृषि)

  • एमबीबीएस

  • बीएएमएस

  • बीएचएमएस

  • बीडीएस

  • नर्सिंग डिप्लोमा

  • बीएमएलटी

  • बी.वी.एससी 


12वीं bio के बाद क्या करें? 12वीं पीसीबी (भौतिक विज्ञानं, रसायन विज्ञानं एवं जीव विज्ञान) के बाद कोर्स: 

जिन छात्रों ने पीसीबी विषयों का चुनाव किया है वह परीक्षाओं के बाद, एमबीबीएस एवं बीएएमएस जैसे कोर्सेज के लिए जा सकते हैं। छात्र NEET UG और अनेक प्रकार के राज्य स्तर की प्रवेश परीक्षाएं दे कर अच्छे से कॉलेज में दाखिल हो सकते हैं। श्रेष्ठ उच्च विद्यालयों में दाखिल होने के लिए विद्यार्थियों को प्रवेश परीक्षाओं में भी अपना उच्चतम प्रदर्शन करना होगा। इसके सिवाय भी ऐसे बहुत से कोर्सेज हैं जिनका चुनाव करके वह छात्र अपने भविष्य को उज्जवल बना सकते हैं। यह विषय निम्न दिए गए हैं: 

पीसीबी के छात्र निम्नलिखित कोर्स में से चुनाव कर सकते हैं: 

  • एमबीबीएस (MBBS)

  • बीएएमएस (BAMS)

  • बीएचएमएस (BHMS)

  • बीडीएस (BDS)

  • नर्सिंग डिप्लोमा (Diploma in Nursing)

  • बीएमएलटी (BMLT)

  • बी.वी.एससी (BVSc.)

  • पैरामेडिकल कोर्स (Paramedical)

  • बीएससी (माइक्रो बायोलॉजी, केमिस्ट्री, बायोलॉजी, बॉटनी) (B.Sc)  


12वीं गणित शास्त्र के बाद क्या करें? 12वीं पीसीएम (भौतिक विज्ञानं, रसायन विज्ञानं एवं गणित शास्त्र) के बाद कोर्स: 

जो छात्र 12वीं पीसीएम के बाद उच्च शिक्षा के लिए जाना चाहते हैं, वह छात्र JEE Main, BITSAT एवं और कई प्रकार के उच्च विश्वविद्यालयों की प्रवेश परीक्षा दे कर अपने मन पसंद कॉलेज में दाखिला ले सकते हैं। भारत में आम तौर पर छात्र अभियांत्रिकी (engineering) के क्षेत्र में ही जाते हैं। इसके सिवा भी बहुत से ऐसे क्षेत्र हैं जिनमें जा कर छात्र अपनी आजीविका बना सकते हैं। यह विषय निम्न दिए गए हैं। 

जो छात्र अपने जीवन को अपने देश के लिए समर्पित करने का सपना देख रहे हैं, वह एनडीए (NDA) की प्रवेश परीक्षा को उत्तीर्ण कर के भारतीय थल सेना, भारतीय जल सेना एवं भारतीय वायु सेना में प्रवेश कर सकते हैं। 

पीसीएम के छात्र निम्नलिखित कोर्स में से चुनाव कर सकते हैं: 

  • एनडीए (NDA)

  • बी.आर्च (B.Arch)

  • बैचलर ऑफ़ प्लानिंग एंड डिज़ाइन (B.Des)

  • सेना में तकनिकी प्रवेश

  • बी.ई./ बी.टेक (B.E./ B.Tech)

  • बीसीए/ बी.एससी/ बीसीएस (BCA/ B.Sc/ BCS)

  • होटेल प्रबंधन (Hotel Management)

  • इंजीनियरिंग डिप्लोमा पश्चात बी.टेक द्वितीय वर्ष में प्रवेश (Lateral Entry in B.Tech 2nd year)

  • फिल्म व टेलीविज़न डिप्लोमा (Diploma in FTII) 


12वीं commerce के बाद क्या करें? 12वीं वाणिज्य के बाद कोर्सेज: 

जिन छात्रों ने वाणिज्य (commerce) में 12वीं कक्षा उत्तीर्ण की है, वह छात्र बी.कॉम (B.Com), बीसीए (BCA), बीबीए (BBA) आदि जैसे कोर्सेज कर सकते हैं। छात्र इस क्षेत्र में कंपनी सचिव, अकाउंटेंट एवं प्रबंधक जैसे पदों पर नियुक्त हो कर अपने आगे का करियर बना सकते हैं। 

वाणिज्य के छात्र निम्नलिखित कोर्स में से चुनाव कर सकते हैं: 

  • सीए (CA)

  • बी.कॉम (B.Com)

  • बीबीए (BBA)

  • सीएस फाउंडेशन (CS Foundation)

  • बीसीए (BCA)

  • डी.एड (D.Ed)

  • सीएफए (CFA) 


12वीं arts के बाद क्या करें? 12वीं कला एवं मानविकी के बाद कोर्सेज: 

आज कल के छात्र के मन में यह भ्रम है की कला एवं मानविकी (arts & humanities) विषय में कोई भविष्य (scope) नहीं है। परन्तु यह सत्य नहीं है। छात्र 12वीं arts की परीक्षा में सफल होने के बाद कानून की पढाई कर सकते हैं। छात्र सामाजिक कार्य का कोर्स कर के समाज के सुधार की और अपना योगदान दे सकते हैं। 

कला एवं मानविकी के छात्र निम्नलिखित कोर्स में से चुनाव कर सकते हैं: 

  • डी.एड (D.Ed)

  • बीएसडब्लू (BSW)

  • एलएलबी (LLB)

  • फैशन व इंटीरियर डिज़ाइन में डिप्लोमा (Diploma in Fashion and Interior Design)

  • बीए (B.A)

  • बीबीए (BBA)

  • विदेशी भाषा में डिप्लोमा (Diploma in Foreign Language) 


12वीं के बाद, कुछ अन्य लोकप्रिय कोर्सेज: 

अब आप सभी छात्रों ने यह जान लिया होगा की 12वीं के बाद कितनी सारे अच्छे पेशेवर कोर्सेज, डिप्लोमा, व्यावसायिक कोर्सेज आदि कर सकते हैं। इसलिए हम आपको उन कुछ कोर्सेज के बारे में बताएँगे जिनसे आपअपना करियर बनाने के साथ-साथ आनंद भी ले सकते हैं। 

इवेंट मैनेजमेंट:

यदि आपको पार्टियों को सँभालने का एवं उनमें जाने का शौक हैं, तो यह आपके लिए एक अच्छा कोर्स है। इस कोर्स से, आपको एक अच्छी नौकरी मिल जाएगी और आप अपना जुनून पूरा करने में सक्षम होंगे। इस कोर्स को करने के बाद यदि आपके पास इवेंट मैनेजमेंट अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सबसे तेजी से बढ़ता हुआ क्षेत्र है। इस क्षेत्र का भविष्य बहुत उज्जवल हैं। 

एनीमेशन कोर्स:

आपने एनीमेशन का नाम तो सुना ही होगा, अब तक आपने देखा होगा कि एनीमेशन का इस्तेमाल आज सभी कार्टून फिल्मों में धड़ल्ले से किया जा रहा है, और एनीमेशन का उपयोग अन्य फिल्मों में साई-फाई एक्शन दृश्यों के लिए तेजी से बढ़ रहा है तो इस क्षेत्र में भविष्य में रोज़गार की बहुत संभावनाएं हैं। 

पर्यटन पाठ्यक्रम:

यदि आप घूमने फिरने के शौकीन हैं, तो यह कोर्स आपके लिए ही बना है। इस कोर्स के बाद आप बहुत पैसा कमा सकते हैं। अब देश भर के कई कॉलेज इस कोर्स को करा रहे हैं और पेशेवर कोर्सिज़ की तुलना में इसकी महत्ता काफ़ी अधिक है। 

मास कम्युनिकेशन एंड जर्नलिज्म:

यदि आप पत्रकारिता के क्षेत्र में करियर बनाना चाहते हैं, तो आप जन संचार का एक कोर्स कर सकते हैं। इसके माध्यम से, आप एक समाचार चैनल में नौकरी पा सकते हैं, वीडियोग्राफी, अभिनय इत्यादि में अपना खुद का करियर बना सकते हैं। कुआँ जानता है की कल के अमिताभ बच्चन आप ही बन जाएं! 

भाषा कोर्स:

यदि आप नई भाषाएं सीखना चाहते हैं, तो आप एक भाषा पाठ्यक्रम में शामिल हो सकते हैं। आप इस डबल भाषा पाठ्यक्रम में यात्रा मार्गदर्शिका की तरह अंशकालिक नौकरी करके अच्छा पैसा कमा सकते हैं, साथ ही साथ आप एक अच्छी नौकरी में सरकारी नौकरी प्राप्त कर सकते हैं या अच्छे वेतन पर नौकरी प्राप्त कर सकते हैं।  

कृषि क्षेत्र:

आज कृषि क्षेत्र में रोजगार का एक बहुत ही उज्ज्वल भविष्य है। आज, भारतीय कृषि आधुनिकता में सबसे आगे है, इसलिए इसके लिए कई कृषि इंजीनियरों, डेयरी इंजीनियरों आदि की आवश्यकता है। जैसा की आप देख ही रहे हैं की आज कल देश खाद्य आपूर्ति के संकट से गुज़र रहा है, इसलिए इस क्षेत्र में बहुत भविष्य है। आप इस में करियर बना सकते हैं, इसके लिए कई कृषि के कई कोर्सेज उपलब्ध हैं। 

होटल प्रबंधन:

आज कल के युवाओं के बीच एक पसंदीदा कोर्स है। होटल प्रबंधन आज के समय का एक बहुत लोकप्रिय कोर्स है। इसमें आपको होटल से संबंधित जानकारी मिलती है जैसे कि आप सुरक्षित हो सकते हैं और घर और विदेश में होटल में अच्छी नौकरी पा सकते हैं। 


12वीं के बाद नौकरी:

छात्र यह हमेशा सोचेंगे की वह शिक्षा नौकरी में वह किसे चुनें। वर्त्तमान में तो 12वीं कक्षा सफल करने के बाद भी छात्रों को नौकरी मिल जाती है, परन्तु 12वीं  के बाद नौकरी करना, छात्रों के लिए काम फायदेमंद रहता है। क्योंकि आज कल के दौर में बड़ी बड़ी कम्पनियाँ अनुभव एवं उच्च शिक्षा मांगती हैं। इसलिए छात्रों को यही सलाह दी जाती है की वह सबसे पहले ऊपर दिए गए कोर्सेज में से शिक्षा/ उच्च शिक्षा अर्जित करें, और फिर नौकरी के विकल्प के बारे में सोचें। इससे उन्हें पद एवं तनख्वाह में भारी उछाल मिलेगा। हमें उम्मीद है की इस लेख से आपकी कई दुविधाएं दूर हो गई होंगी।



Leave a comment


up